699 + Best Makar Sankranti Wishes In Hindi | मकर संक्रांति शुभकामनाएं

सभी दोस्तों को मकर संक्रांति पर्व की शुभकामनाये !!
आपका दिन शुभ और मंगलमय हो ऐसी कमाना !!
करता हूँ !!

आप पर सूर्य देवता के आशीर्वाद की कृपा बनी रहे !!
और आपका जीवन खुशी की अनन्त सूर्य किरणों से भर जाए !!

makar sankranti ki hardik shubhkamnaye,
makar sankranti images in hindi,
makar sankranti ki shubhkamnaye,
sankranti status,
makar sankranti ki hardik shubhkamnaen,
makar sankranti 2023 shayari,
makar sankranti wishes in sanskrit,
makar sankranti shubhkamnaye,
happy makar sankranti wishes in hindi,
subho makar sankranti,
makar sankranti ki hardik shubhkamnaye in hindi,
makar sankranti message in hindi,
makar sankranti hardik shubhechha,
uchaiya in hindi,
makar sankranti wishes hindi,
makar sankranti wishes in hindi images,
happy makar sankranti images in hindi,
happy makar sankranti wishes hindi,

बाजरे की रोटी निम्बू का आचार !!
सूरज की किरणें! चाँद की चांदनी !!
और अपनों का प्यार! हर जीवन हो खुशाल !!
मुबारक हो मकर संक्रान्ति का त्योहार !!

तिल हम हैं और गुड़ आप !!
मिठाई हम हैं और मिठास आप !!
साल के पहले त्यौहार से हो रही है आज शुरुआत !!
आपको हमारी तरफ से !!
हैप्पी मकर संक्रांति !!

मीठे गुड में मिल गया तिल !!
उडी पतंंग और खिल गया दिल !!
आपके लिए लाये मकर संक्रांति !!

त्यौहार नहीं होता है अपना पराया !!
त्योहार वही जिसे सबने मनाया !!
तो मिला के गुढ़ में तिल !!
पतंगन संग उड़ जाने दो दिल !!
हैप्पी मकर संक्रांति !!

पल पल सुनहरे फूल खिले !!
कभी न हो काँटों से सामना !!
जिंदगी आपकी खुशियो से भरी रहे !!
यही है संक्रांति पर हमारी शुभकामना !!

दिल को धडकन से पहले !!
दोस्त को दोस्ती से पहले !!
खुशी को गम से पहले !!
आपको कुछ दिल पहले !!
हैप्पी मकर संक्रांति !!

पग पग सुनहरे फूल खिलें !!
कभी भी न हो काँटों का सामना !!
ज़िन्दगी आपकी ख़ुशी से भरी रहे !!
ये ही है हमारी मनोकामना !!

सभी लोगों को मिले सन्मति !!
आज है मकर संक्रांति !!
मित्रों उठ गया है दिनकर !!
लो उड़ाए पतंग मिलकर !!

Captions For Lnstagram In Hindi | इंस्टाग्राम कैप्शन इन हिंदी

Makar Sankranti Wishes In Hindi

मीठे है तिल और गुड़ के लड्डू !!
मीठे हो सब के बोल !!
हमारी ओर से आप सब को !!
मकर संक्रांति की शुभकामनाएं !!

सब फ्रेंड को मिले सन्मति !!
आज है मकर संक्राति !!
स्वीट फ्रेंड उग गया दिनकर !!
उड़ाए पतंग हम मिलकर !!
आकाश हो पतंग से आता !!
सुनाओ वो मेरा वो कटा !!

खुले आसमान में जमी से बात न करो !!
ज़ी लो ज़िंदगी ख़ुशी का आस न करो !!
हर त्यौहार में कम से कम हमे न भूला करो !!
फ़ोन से न सही मैसेज से ही संक्राति विश किया करो !!

काट ना सके कभी कोई पतंग आपकी !!
टूटे ना कभी डोर विश्वास की !!
छू लो आप ज़िन्दगी की सारी कामयाबी !!
जैसे पतंग छूती है ऊँचाइयाँ आसमान की !!
मकर संक्रांति की हार्दिक शुभ कामनायें !!

खुशीयों का है यह त्यौहार !!
गुड और टिल का है यह त्यौहार !!
शांति और समृद्धि का है यह त्यौहार !!
!!मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाए !!

गुल को गुलशन मुबारक हो !!
चाँद को चांदनी मुबारक हो !!
शायर को शायरी मुबारक हो !!
और हमारी तरफ से आप को मकर संक्रांति की !!
हार्दिक शुभकामनाएं !!

बचपन में वो धूम मचाना मौज मनाना !!
यारो के साथ पतंगे उड़ाना !!
बहुत सही था यार वो ज़माना !!
मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनायें !!

मुंगफली की खुश्बु, और गुड़ की मिठास !!
दिलों में खुशी और अपनो का प्यार !!
मुबारक हो आपको मकर संक्रांति का त्योंहार !!

मकर संक्रांति का त्यौहार सबने !!
अपनाया पंजाबी हिन्दू, मुस्लिम !!
सीख ईसाई सबने मिलकर मनाया !!
गुड और तिल के पकवान को सबने !!
खाया बच्चों ने खूब पतंग को उड़ाया !!

त्योहार नहीं होता अपना पराया !!
त्योहार है वही जिसे सब ने मनाया !!
तो मिला के गुड़ में तिल !!
पतंग संग उड़ जाने दो दिल !!

Makar Sankranti Wishes

बागों में फूल खिल रहे है !!
धीमी धीमी खुशबू बिखेर रहे है !!
आपका घर खुशियों से भर जाए मकर संक्रांति के शुभअवसर पर !!

तन में मस्ती मन में उमंग !!
देकर सबको अपनापन गुड में जैसे मीठापन !!
होकर साथ हम उड़ायें पतंग !!
और भर ले आकाश में अपने रंग !!

बहार देखो जरा मौसम खुशमिजाज़ है !!
सूर्य हंस रहा है, पेड़ पौधे नाच रहे हैं !!
चिड़िया गा रहे हैं !!

त्यौहार नहीं होता अपना पराया !!
त्यौहार है वही जिसे सबने मनाया !!
तो मिला गुड में तिल !!
पतंग संग उड़ जाने दो दिल !!

पल पल सुन्हेरे फूल खिलें !!
कभी न हो काटों का सामना !!
जिंदगी आपकी खुशियों से भरी रहे !!
मकर संक्रांति पर यही है यही है !!
हमारी शुभकामना !!

सूर्य उत्तर की ओर सफर शुरू होता है !!
उन्होंने कहा कि इस साल भर के सभी खुशी बनाता है !!
आप और आपके परिवार को मेरी तरफ से है !!
मकर संक्रांति बहुत खुश है !!

जिस तरह सक्रांति के त्यौहार पर गगन पतंगों के रंग से रंग जाता है !!
उस तरह आपका जीवन भी खुशियों के रंग से रंग जाए !!
हमारी ओर से !!
मकर संक्रांति त्योहार ढेर सारी शुभकामनाएं !!

मैंने दिल से पूछा !!
मुझे रात को नींद क्यों नहीं आती !!
दिल ने कहा !!
प्यार होने की एक्टिंग मत कर !!
दोपहर में तू खूब पतंग उड़ाया था !!
शुभ मकर संक्रांति !!

पुराना साल जाता है, नया साल आता है !!
साथ आप संक्रांति की खुशिया लता है !!
भगवान आप को वो खुशिया दे जो आप का दिल चाहता है !!

पूर्णिमा का चाँद रंगों की डोली !!
चाँद से उसकी चांदनी बोली !!
खुशियों से भरे आपकी झोली !!
मुबारक हो आप को रंग बिरंगी !!
पतंग वाली मकर संक्रांति !!
हैप्पी संक्रांति !!

Makar sankranti ki hardik shubhkamnaye

यादें अक्सर होती है सताने के लिए !!
रूठ जाता है कोई फिर मान जाने के लिए !!
रिश्ते निभाना कोई मुश्किल तो नही हैं !!
दिलो में बस प्यार चाहिए उसे निभाने के लिए !!

है प्यारा यह पर्व हमारा !!
नया दिन और नया उजियारा !!
मिट जाये सब क्लेश दिलों से !!
मकर संक्रांति पर यही सन्देश है हमारा !!

तिल हम है और गुड़ हो आप !!
मिठाई हम है और मिठास हो आप !!
इस साल के पहले त्योहार से हो रही अब शुरुआत !!
आपको और आपके परिवार को !!
हैप्पी मकर संक्रांति !!

पतंग की उडान लड्डू की बहार !!
आया संक्रांति का त्योहार !!
थोड़ी मस्ती थोड़ा प्यार !!
आपको मुबारक हो यह त्योहार !!

सोचा किसी अपने से बात करें !!
अपने किसी खास को याद करें !!
किया जो फैसला मकर संक्रांति की शुभकामनाएं देने का !!
दिल ने कहा क्यों ना शुरूआत आपस !!

हर पतंग जानती है अंत में कचरे में जाना है !!
लेकिन उससे पहले हमें !!
आसमान छूकर दिखाना है !!

कागज अपनी किस्मत से उड़ती है !!
पतंग अपनी काबिलियत से इसलिए !!
किसमत साथ दे या ना दे !!
पर काबिलियत हमेशा साथ देती !!
काबिल बनो कामयाबी झक मारके पीछे दौड़ेगी !!

सुंदर कर्म शुभ पर्व !!
हर पल सुख और हर दिन शान्ति !!
आप सब के लिए लाये मकर संक्रांति !!

ख़ुशी का है यह मौसम !!
गुड और टिल का है यह मौसम !!
पतंग उड़ाने का है यह मौसम !!
शांति और समृद्धि का है यह मौसम !!
मकर संक्रांति की शुभकामनायें !!

मंदिर की घंटी पूजा की थाली !!
नदी के किनारे सूरज की लाली !!
जिंदगी में आये खुशियों की हरियाली !!
आपको मुबारक हो संक्रांति का त्यौहार !!

Makar sankranti images in hindi

तिल हम हैं और गुड़ आप !!
मिठाई हम हैं और मिठास आप !!
साल के पहले त्यौहार से हो रही है आज शुरुआत !!
आपको हमारी तरफ से !!
हैप्पी मकर संक्रांति !!

उगता हुआ सूरज दुआ दे आपको !!
खिलता हुआ फूल खुशबू दे आपको !!
हम तो कुछ देने के काबिल नहीं हैं !!
मकर संक्रांति की आपको हार्दिक शुभकामनायें !!

बाजरे की रोटी निम्बू का अचार !!
सूरज की किरणें चाँद की चाँदनी !!
और अपनों का प्यार !!
हर जीवन हो खुशहाल !!
मुबारक हो आपको सं ति का त्यौहार !!

काट ना सके कभी कोई पतंग आप की !!
टूटे ना कभी डोर आपके विश्वास की !!
छु लो आप ज़िन्दगी की सारी कामयाबी !!
जैसे पतंग छूती है ऊंचाईया आसमा की !!
मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनायें !!

दिल में है छायी मस्ती !!
मन में भरी है उमंग !!
उड़ती हैं पतंगें रंग बिरंगी !!
आसमान में छाया मकर संक्रांति का रंग !!

मीठे गुड़ में मिल गए तिल !!
उड़ी पतंग और खिल गए दिल !!
हर पल सुख और हर दिन शांति !!
आप सब के लिए लाये मकर संक्रांति !!

तिल हम हैं और गुड़ हैं !!
आप मिठाई हम हैं और मिठास हैं !!
आप साल के पहले त्यौहार से हो रही है !!
शुरूआत आपको हमारी तरफ से ढेर सारी मुबारकबाद !!

सूर्य का त्योहार लाएगा आपके जीवन में ज्ञान !!
और खुशियों का भंडारमुबारक हो आपको मकर !!
संक्रांति का त्योहार !!

तिलकुट की खुशबू दही-चिवड़ा की बहार !!
मुबारक हो आपको नया साल का पहला त्योहार !!
हैप्पी मकर संक्रांति !!

सूरज की राशि बदलेगी !!
कुछ का नसीब बदलेगा !!
यह साल का पहला पर्व होगा !!
जब हम सब मिल कर खुशियां मनाएंगे !!
हैप्पी मकर संक्रांति !!

Selfish Family Quotes In Hindi | मतलबी कोट्स इन हिंदी

Sankranti status

मंदिर की घंटी आरती की थाली !!
नदी के किनारे सूरज की लाली !!
जिंदगी में आए खुशियों की बहार !!
मुबारक हो आपको मकर संक्रांति का त्योहार !!

मुंगफली की खुश्बु और गुड़ की मिठास !!
दिलों में खुशी और अपनो का प्यार !!
मुबारक हो आपको !!
मकर संक्रांति का त्योंहार !!

तन में मस्ती मन में उमंग !!
चलो आकाश में डाले रंग !!
हो जाये सब संग संग !!उड़ाये पतंग

पल पल सुनहरे फूल खिले !!
कभी ना हो कांटों का सामना !!
जिंदगी आपकी खुशियों से भरी रहे !!
संक्रांति पर हमारी यही शुभकामना !!

मिठी बोली मिठी जुबान !!
इस त्योंहार का यही है पैगाम !!

अपनी कमजोरियों का जिक्र !!
कभी भी न करना जमाने से !!
लोग कटी पतंगों को जमकर !!
लुटा करते है !!

पति घर में हथौड़ा है क्या !!
पत्नी ऐ जी हथौड़े का क्या करोगे !!
पति तेरे मायके से मकर संक्रांति !!
के लडडू आये हैं उनको तोड़ने हैं !!
हैप्पी मकर संक्रांति !!

मकर संक्रांति पर अपनी पत्नी !!
का फोटु पतंग पर चिपकाइए !!
और ऊँगली पर नचाने का आनंद उठाइये !!
यह ऑफर सिर्फ मकर संक्रांति के लिए है !!

पति सुतली बम है क्या !!
पत्नी दिवाली खत्म हो गई !!
अब सुतली बम क्यों चाहिए !!
पति तुम्हारे मायके से संक्रांति पर तिल के लड्डू आये है !!
उन्हें तोड़ना हैं !!

तिल पकवानों की मिठास जिंदगी में भरिये !!
पतंगों की तरह आकाश में बुलंदी पाइये !!
और अपनी मेहनत की डोर से बुलंदी को संभाल के रखिये !!
आपको मकर संक्रांति की शुभकामनायें !!

Makar sankranti hardik shubhechha

जैसे सूर्योदय के होते ही अंधकार दूर हो जाता है !!
वैसे ही मन की प्रसन्नता से सारी बाधाएँ शांत हो जाती हैं !!
सभी को मकरसंक्राँति की हार्दिक शुभकामनाएँ !!

पतंगों का नशा, मांझे की धार !!
सर्दी की मार, फिर भी दिल है बेक़रार !!
मुबारक हो आपको पतंगों का त्यौहार !!
हैप्पी मकर संक्रांति !!

पल पल सुनहरे फूल खिले !!
कभी न हो काँटों से सामना !!
जिंदगी आपकी खुशियो से भरी रहे !!
यही है मकर संक्रांति पर हमारी शुभकामना !!

काट ना सके कभी कोई पतंग आपकी !!
टूटे ना कभी डोर विश्वास की !!
छू लो आप ज़िन्दगी की सारी कामयाबी !!
जैसे पतंग छूती है ऊंचाइयां आसमान की !!
मकर संक्राति की हार्दिक शुभकामनाएं !!

हर पतंग जानती है !!
अंत में कचरे में जाना है !!
लेकिन उससे पहले हमें !!
आसमान छूकर दिखाना है !!

काट ना सके कभी कोई पतंग आप की !!
टूटे ना कभी डोर आपके विश्वास की !!
छु लो आप जिंदगी की सारी कामयाबी !!
जैसे पतंग छूती है ऊँचाइयाँ आसमान की !!
मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकमाए !!

पल पल सुनहरे फूल खिलें !!
कभी ना हो काँटों का सामना !!
जिंदगी आपकी खुशियों से भरी रहे !!
संक्रांति पर हमारी यही शुभकामना !!

सूरज की राशि बदलेगी !!
बहुतों की किस्मत बदलेगी !!
यह साल का पहला पर्व होगा !!
जो बस खुशियों से भरा होगा !!
हैप्पी संक्रांति !!

सुंदर कर्म शुभ पर्व !!
हर पल सुख और हर दिन शान्ति !!
आप सब के लिए लाये मकर संक्रांति !!
Happy Makar Sankranti !!

पल पल सुनहरे फूल खिले !!
कभी न हो काँटों से सामना !!
जिंदगी आपकी खुशियो से भरी रहे !!
यही है संक्रांति पर हमारी शुभकामना !!

Makar sankranti message in hindi

उत्तरायण का सूर्य आपके स्वप्नों को नयी ऊष्मा प्रदान करे !!
आपके यश एवम् कीर्ति में उत्तरोत्तर वृद्धि हो !!
आप परिजनों सहित स्वस्थ रहें दीर्घायु हों !!
इसी प्रार्थना के साथ मकर संक्रान्ति के पावन पर्व पर !!
हार्दिक शुभकामनाएँ !!

जिस प्रकार मकर राशि में प्रवेश करने से !!
सूर्य का तेज बढ़ता है !!
उसी प्रकार आपका तेज यश मान सम्मान !!
बढे ऐसी हमारी कामना है !!

काट न सके कोई पतंग आपकी !!
टूटे न कभी डोर विश्वास की !!
छु लो आप जिंदगी की सारी कामयाबी !!
जैसे पतंग छूती है ऊंचाईया आसमान की !!
मकर संक्राति की हार्दिक शुभकामनाएं !!

काट ना सके कभी कोई पतंग आप की !!
टूटे ना कभी डोर आपके विश्वास की !!
छु लो आप जिंदगी की सारी कामयाबी !!
जैसे पतंग छूती है ऊँचाइयाँ आसमान की !!
मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकमाए !!

उडी वो पतंग और खिल गया दिल !!
गुड की मिठास में देखों मिल गया तिल !!
चलो आज उमंग उल्लास में खो जाए हम लोग !!
सजाएँ थाली और लगाए !!
अपने भगवान को भोग !!

बंदे हें हम गुजराती हम पर किसका ज़ोर !!
उतरायण में उड़े पतंग चारों ओंर !!
लंच में खायें ऊँधिया और जलेबी गोल गोल !!
अपना मांजा खुद बनवाने !!
आज चले हम टेरेस की ओर !!

मीठे गुड़ में मिल गए तिल उड़ी पतंग और खिल गए दिल !!
हर पल सुख और हर दिन शांति आप सबके लिए लाए मकर सक्रांति !!

मंदिर की घंटी पूजा की थाली !!
नदी के किनारे सूरज की लाली !!
जिंदगी में आये खुशियों की हरियाली !!
आपको मुबारक हो संक्रांति का त्यौहार !!

तन में मस्ती मन में उमंग !!
देकर सबको अपनापन !!
गुड़ में जैसे मीठापन !!
होकर साथ हम उड़ाएं पतंग !!
और भर दें आकाश में अपने रंग !!

होठों पे मुस्कान औँर आपका साथ हो !!
हर त्योहार हमारे लिए फिर खास हो !!
उड़े पतंग हवा में और आप खिलखिलाती हो !!
ऐसी इस साल की हमारी मकर संक्रांति हो !!

Happy makar sankranti images in hindi

पतंग तुम्हाला कधीही चावू शकत नाही !!
तुमच्या विश्वासाचे दरवाजे कधीही तोडू नका !!
जीवनाच्या सर्व यशाला स्पर्श करा !!
जसा पतंग आकाशाला भिडतो !!
मकर संक्रांतीच्या शुभेच्छा !!

सूर्याची राशी बदलेल! अनेकांचे नशीब बदलेल !!
हा वर्षातील पहिला सण असेल जो केवळ आनंदाने भरलेला असेल !!

देख भाई प्यार में गिरना !!
लेकिन छत पर से मत गि रना !!
हड्डियां टूटने पर बहुत ही दर्द होता है !!

पल पल सुनहरे फूल खिले !!
कभी न हो काँटों का सामना !!
जिन्दगी आपकी खुशियों से भरी रहे !!
संक्रांति पर हमारी यही शुभकामना !!
मकर संक्रांति की हार्दिक बधाई !!

काट न सके कोई पतंग आपकी !!
टूटे न कभी डोर विश्वास की !!
छु लो आप जिंदगी की सारी कामयाबी !!
जैसे पतंग छूती है ऊंचाईया आसमान की !!

पूर्णिमा का चाँद रंगों की डोली !!
चाँद से उसकी चांदनी बोली !!
खुशियो से भरे आपकी झोली !!
मुबारक हो आप को रंग बिरंगी !!
‘पतंग वाली मकर संक्रांति !!
हैप्पी संक्रांति !!

सूरज की राशि बदलेगी !!
बहुतों की किस्मत बदलेगी !!
यह साल का पहला पर्व होगा !!
जब हम सब मिलकर खुशियाँ मनायेगेंपर !!
मकर सक्रांति की हार्दिक शुभकामनायें !!

तील हम है और गुल आप !!
मिठाई हम है और मिठास आप !!
साल के पहले त्यौहार से हो रही आज शुरुआत !!
आप को हमारी तरफ से हैप्पी संक्रांति !!

त्योहार नही होता अपना पराया !!
त्योहार है वही जिसे सबने मनाया !!
तो मिला के गुंड में तिल !!
पतंग संग उड़ जाने दो दिल !!
मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ !!

मकर संक्रांति पर शायरी !!
सुंदर कर्म! शुभ पर्व !!
हर पल सुख और हर दिन शान्ति !!
आप सब के लिए लाये मकर संक्रांति !!

Durga Puja Quotes In Hindi | माँ दुर्गा शायरी इन हिंदी

Uchaiya in hindi

गुड़ में तिल गए जैसे मिल !!
तन में मस्ती खिल गए दिल !!
चैन अमन और रहे शांति !!
हो मुबारक मकर संक्रांति !!

इस वर्ष की मकर संक्रांति !!
आपके लिए हो तिल लड्डू जैसी मीठी !!
मिले कामयाबी पतंग जैसी उँची !!
इसी कामना वाली मकर संक्राति !!

बिन बादल बरसात नहीं होती !!
सूरज के उगे बिना दिन की शुरुआत नहीं होती !!
हम जानते है हमारे बिना विश की आप की !!
कोई त्यौहार शुरुआत नहीं होती !!
आप सभी को मकर संक्रांति की हार्दिक !!

त्यौहार नहीं होता है अपना पराया !!
त्योहार वही जिसे सबने मनाया !!
तो मिला के गुढ़ में तिल !!
पतंगन संग उड़ जाने दो दिल !!
हैप्पी मकर संक्रांति !!

तील हम है, और गुड़ हो आप !!
मिठाई हम है, और मिठास हो आप !!
इस साल के पहले त्योंहार से हो रही आज शुरुआत !!
आपको हमारी ओर से मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ !!

काट ना सके कभी कोई पतंग आपकी !!
टूटे ना कभी डोर विश्वास की !!
छू लो आप ज़िन्दगी की सारी कामयाबी !!
जैसे पतंग छूती है ऊंचाइयां आसमान की !!

मंदिर की घंटी आरती की थाली !!
नदी के किनारे सुरज की लाली !!
जिंदगी में आये खुशियों की बहार !!
आपको मुबारक हो पतंगों का त्योंहार !!

काट ना सके कभी कोई पतंग आपकी टूटे ना कभी डोर !!
विश्वास की छू लो आप ज़िन्दगी की सारी कामयाबी !!
जैसे पतंग छूती है ऊँचाइयाँ आसमान की मकर सक्रांति की !!
हार्दिक शुभ कामनायें !! !!

तन में मस्ती मन में उमंग !!
देकर सबको अपनापन !!
गुड़ में जैसे मीठापन !!
होकर साथ हम उड़ाएं पतंग !!
और भर दें आकाश में अपने रंग !!

तन में मस्ती मान में उमंग !!
चलो आकाश में डाले रंग !!
हो जाये सब संग संग !!
उडाए पतंग हैप्पी मकर संक्रान्ति !!

Rate this post

Leave a Comment