499 +Best Chand Shayari In Hindi | चाँद शायरी

बेसबब मुस्कुरा रहा है चाँद !!
कोई साजिश छुपा रहा है चाँद !!

वो चाँद कह के गया था कि आज निकलेगा !!
तो इंतिज़ार में बैठा हुआ हूँ शाम से ही मैं !!

chand shayari in hindi,
chand shayari,
chand quotes,
chand par shayari,
chand shayari hindi,
shayari on moon,
chand pe shayari in hindi,
chand quotes in hindi,
chand pe shayari,
moon shayari in hindi,
chaand shayari,
chand sa chehra shayari,
chand caption,
shayari on moon in hindi,
chand ki shayari,
chand ki tarif,
chand ke upar shayari,
chaand shayari in hindi,

तुझको देखा तो फिर उसको ना देखा मैंने !!
चाँद कहता रह गया मैं चाँद हूँ मैं चाँद हूँ !!

उसके चेहरे की चमक के सामने सादा लगा !!
आसमाँ पर चाँद पूरा था मगर आधा लगा !!

चाँद में नज़र कैसे आए तेरी सूरत मुझको !!
आँधियों से आसमाँ का रंग मैला हो गया !!

मेरा और चाँद का मुक़द्दर एक जैसा है !!
वो तारो में अकेला मैं हजारो में अकेला !!

दिन में चैन नहीं ना होश है रात में !!
खो गया है चाँद भी देखो बादल के आगोश में !!

रात भर आसमां में हम चाँद ढूढ़ते रहे !!
चाँद चुपके से मेरे आँगन में उतर आया !!

मुन्तज़िर हूँ कि सितारों की जरा आँख लगे !!
चाँद को छत पे बुला लूँगा इशारा करके !!

चलो चाँद का किरदार अपना लें हम !!
दाग अपने पास रखें और रौशनी बाँट दें !!

Attitude Friend Shayari Ih Hindi | दोस्ती शायरी दो लाइन

Chand Shayari In Hindi

कल चौदहवी की रात थी रात भर रहा चर्चा तेरा !!
कुछ ने कहा ये चाँद है !!कुछ ने कहा चेहरा तेरा !!

ए चाँद आंखों के सामने ना आया कर !!
हर रात मुझे उसकी याद ना दिलाया कर !!

आज टूटेगा गुरुर चांद का तुम देखना यारो !!
आज मैंने उन्हें छत पे बुला रखा है !!

चाँद की खूबसूरती पर एक पहरा दिख रहा है !!
आज मुझे चाँद में महबूब का चेहरा दिख रहा है !!

चाँद को देखूँ तो तेरा चेहरा नजर आता है !!
मैं इश्क में हूँ इतना तो मुझे समझ में आता है !!

तेरे चेहरे से ऐसे नूर झलकता है !!
जैसे दूर आसमान में चाँद चमकता है !!

ख्वाब देखने की मुझे ख्वाहिश नहीं !!
मैं तो रात गुजारता हूँ चाँद देखते-देखते !!

अहसान अगर करो तो किसी को खबर न हो !!
सूरज का जैसे जिक्र नहीं चाँदनी क साथ !!

बेसबब मुस्कुरा रहा है चाँद !!
कोई तो साजिश छुपा रहा है चाँद !!

ना चाँद चाहिए ना फलक चाहिए !!
मुझे बस तेरी की एक झलक चाहिए !!

Chand Shayari

हमने क़सम खायी है चाँद को चाँद रहने देंगे !!
चाँद में अब तुम को ना ढूँढा करेंगे !!

नजर में आपकी नज़ारे रहेंगे !!
पलकों पर चाँद सितारे रहेंगे !!

बदल जाये तो बदले ये ज़माना !!
हम तो हमेशा आपके दीवाने रहेंगे !!

कहकशां चाँद सितारें तेरे चूमेंगे कदम !!
तेरे रस्ते की मैं एक धूल हूँ उड़ जाऊँगा !!

चलो चाँद का किरदार अपना लें हम दोस्तों !!
दाग अपने पास रखें और रौशनी बाँट दें !!

जिन आँखों में काजल बन कर तैरी काली रात !!
उन आँखों में आंसू का इक कतरा होगा चाँद !!

रातों में टूटी छतों से टपकता है चाँद !!
बारिशों सी हरकतें भी करता है चाँद !!

न चांद की चाह न फलक का इंतजार हैं !!
कैसे कहूं मुझे बस तुझसे ही प्यार है !!

सारी रात गुजारी हमने इसी इंतजार में की !!
अब तो चाँद निकलेगा आधी रात में !!

चाँद में नज़र कैसे आए तेरी सूरत मुझको !!
आँधियों से आसमाँ का रंग मैला हो गया !!

Chand shayari in hindi

चांद गवाह है मेरे प्यार का !!
वो चांद के सामने प्यार की बाते करते थे !!

इतना खूबसूरत इतफ़ाक़ है !!
अमावस की रात है और चाँद मेरे पास है !!

किसी के इंतज़ार में रातो को बरबाद ना करना !!
टूटते हुए सितारे ने ये बात हमको सिखाई है !!

ऐ काश हमारी क़िस्मत में ऐसी भी कोई शाम आ जाए !!
एक चाँद फ़लक पर निकला हो एक छत पर आ जाए !!

आज टूटेगा गुरूर चाँद का तुम देखना यारो !!
आज मैंने उन्हें छत पर बुला रखा है !!

वो चाँद कह के गया था कि आज निकलेगा !!
तो इंतिज़ार में बैठा हुआ हूँ शाम से ही मैं !!

उस के चेहरे की चमक के सामने सादा लगा !!
आसमाँ पे चाँद पूरा था मगर आधा लगा !!

ईद का चाँद तुम ने देख लिया !!
चाँद की ईद हो गई होगी !!

कभी तो आसमाँ से चाँद उतरे जाम हो जाए !!
तुम्हारे नाम की इक ख़ूब सूरत शाम हो जाए !!

आज फिर चाँद देर से निकला !!
तुम ने फिर देर कर दी आने में !!

Chand shayari

चाँद अपने आप को कहते हो तुम !!
आओ देखें हो गई है रात भी !!

उसकी ज़िद थी कोई मुझसा दूसरा लाओ !!
बड़ी मुश्किल से मै चाँद खींच के लाया हूँ !!

चांद को देख कर पता चलता है !!
खूबसूरत चीज़ को पाना कितना मुश्किल है !!

साथ साथ घुमते है रात भर !!
लोग मुझे तारा और उन्हे चाँद कहते है !!

इश्क करना होतो रात की तरह करो !!
जिसे चाँद भी पसंद हो और दाग भी कबूल ना हो !!

चाँद के दीदार में तुम छत पर क्या चली आई !!
शहर में ईद की तारीख मुक्कमल हो गयी !!

पूछा जो उन से चाँद निकलता है किस तरह !!
ज़ुल्फ़ों को रुख़ पे डाल के झटका दिया कि यूँ !!

रहने दो अभी चाँद सा चेहरा मिरे आगे !!
मय और पिलाओ कि अभी रात बहुत है !!

चाँद होता न आसमाँ पे अगर
हम किसे आप सा हसीं कहते !!

क़मर’ अपने घर उन को मेहमाँ बुला कर
बिला चाँद के चाँदनी रात कर ली !!

Life Quotes In Hindi 2 Line | लाइफ कोट्स इन हिंदी

Shayari on moon

चाँद अपने आप को कहते हो तुम
आओ देखें हो गई है रात भी !!

बेचैन इस क़दर था कि सोया न रात भर !!
पलकों से लिख रहा था तेरा नाम चाँद पर !!

निगाहें हम दोनों की चाँद पर ही थी !!
उनकी आसमान वाले पर और हमारी उन पर !!

जब भी ज़िंदगी तेरी बाहों में ले आती है हमे !!
ये ज़मीन चाँद से भी बेहतर नज़र आने लगती है !!

मुझको देखा तो फिर चाँद को ना देखा उसने !!
फिर चाँद कहता रह गया की मैं चाँद हूँ !!

हमारी आरज़ू बचपन से चाँद देखने की थी !!
और फिर हमारी आप से मुलाक़ात हो गयी !!

बहकी-बहकी ये रातें और महकी-महकी सी साँसे !!
चाँद का दीदार और हमारी बातें !!

लोग खोजते रहते हैं बेवज़ह आसमान में !!
हमने जब भी चाहा ज़ुल्फ़ों में चाँद देख लिया !!

क्यूँ मेरी तरह रातों को रहता है !! परेशाँ
ऐ चाँद बता किस से तेरी आँख लड़ी है !!

तुझको देखा तो फिर उसको ना देखा मैंने !!
चाँद कहता रह गया मैं चाँद हूँ मैं चाँद हूँ !!

Chand pe shayari in hindi

चाँद तारो में नजर आये चेहरा आपका !!
जब से मेरे दिल पे हुआ है पहरा आपका !!

है चाँद सितारों में चमक तेरे प्यार की !!
हर फूल से आती है महक तेरे प्यार की !!

वो चाँद कह के गया था कि आज निकलेगा !!
तो इंतिजार में बैठा हुआ हूँ शाम से मैं !!

न चाँद की चाह न फलक का इंतजार है !!
कैसे कहूँ मुझे बस तुझसे ही प्यार है !!

कितना हसीन चाँद सा चेहरा है !! उस पर शबाब !!
का रंग गहरा है !! खुदा को यकीन न था वफा पर !!
तभी चाँद पर तारों का पहरा है !!

भले कई हजार बार टूटे तो फिर क्या !!
पता हैं अमावस की रात हैं !!
पर हमे आज ही चाँद देखना हैं !!

उन तन्हा रातों में तकिये से लिपट रोते थे हम !!
तूने तो खबर ना ली छोड़ने के बाद !!
दिल का हर एक राज़ चाँद से कहते थे हम !!

एक अदा आपकी दिल चुराने की !!
एक अदा आपकी दिल में बस जाने की !!
चेहरा आपका चाँद और जिद हमारी चाँदको पाने की !!

एक खोया खोया चाँद हे जो हे खफा खफा !!
एक टुटा टुटा ख्वाब हे जो हे तुझसे हे जुड़ा !!
एक आधी आधी आस हे जो अधूरी रह गयी !!

वैसे तो कई दोस्त है !! हमारे जैसे आसमान में है कई तारे
पर आप दोस्ती के आसमान के वो चाँद है !!
जिसके सामने फीके पड़ते हैं सारे सितारे !!

Chand sa chehra shayari

रात भर करता रहा !!
तेरी तारीफ चांद से !!
चाँद इतना जला की !!
सुबह तक सूरज हो गया !!

सुनो मेरी जान चांद को !!
जगह दिखानी होगी !!
बस तुम्हे माथे पर एक
दिन बिंदिया लगानी होगी !!

तू चाँद और मैं सितारा होता !!
आसमान में एक आशियाना हमारा होता !!
लोग तुम्हे दूर से देखते नजदीक से देखने का !!
हक बस हमारा होता !!

चाँद की तरह ही खिले तेरी मुस्कान !!
तारो की तरह सजे तेरे अरमान !!
तू उदास ना हो कभी !!
तेरी जिंदगी में खुशियाँ हो बेशुमार !!

चाँद से प्यारी चादनी !!
चादनी से प्यारी रात !!
रात से प्यारी जिन्दगी !!
जिन्दगी से प्यारे हो आप !!

वो आसमा ही है जो रह लेता होगा !!
एक दिन चांद के बगैर !!
हमें तो एक दिन भी कबूल नहीं !!
तुझे याद किये बगैर !!

कल चौदहवीं की रात थी !!
शब भर रहा चर्चा तेरा !!
कुछ ने कहा ये चाँद है !!
कुछ ने कहा चेहरा तेरा !!

तू अपनी निगाहों से न देख खुद को !!
चमकता हीरा भी तुझे पत्थर लगेगा !!
सब कहते होंगे चाँद का टुकड़ा है तू !!
मेरी नजर से चांद तेरा टुकड़ा लगेगा !!

रात को जब चाँद सितारे चमकते हैं !!
हम हरदम आपकी याद में तड़पते हैं !!
आप तो चले जाते हो छोड़कर हमें !!
हम रात भर आपसे मिलने को तरसते हैं !!

एक अदा आपकी दिल चुराने की !!
एक अदा आपकी दिल में बस जाने की !!
चेहरा आपका चाँद सा और एक !!
हसरत हमारी उस चाँद को पाने की !!

Chand ki shayari

कितना हसीन चाँद सा चेहरा है !!
उस पर शबाब का रंग गहरा है !!
खुदा को यकीन न था वफ़ा पर !!
तभी चाँद पर तारों का पहरा है !!

पत्थर की दुनिया जज़्बात नहीं समझती !!
दिल में क्या है वो बात नहीं समझती !!
तनहा तो चाँद भी सितारों के बीच में है !!
पर चाँद का दर्द वो रात नहीं समझती !!

एक अदा आपकी दिल चुराने की !!
एक अदा आपकी दिल में बस जाने की !!
चेहरा आपका चाँद सा और एक !!
हसरत हमारी उस चाँद को पाने की !!

चाँद को तारो का सहारा मिला है !!
इस जहा को क्या नज़ारा मिला है !!
हम खुद को खुश किसमत समझते है !!
हमें आपका साथ सारी ज़िन्दगी का मिला है !!

टूटे खुवाब की तस्वीर कब पूरी होती है !!
चांद तारों के बीच भी दूरी होती है !!
देना तो खुदा हमें सब कुछ चाहता है !!
पर उसकी भी कुछ मजबूरी होती है !!

महफ़िल ना होती नज़ारे ना होते !!
यु चांद के पहलू में सितारे ना होते !!
हम इसलिए रहते है बेचैन आपके लिए !!
क्योकि दिल के करीब सारे नहीं होते !!

एक अदा आपकी दिल चुराने की !!
एक अदा आपकी दिल में बस जाने की !!
चेहरा आपका चाँद सा और एक !!
हसरत हमारी उस चाँद को पाने की !!

तू अपनी निगाहों से न देख खुद को !!
चमकता हीरा भी तुझे पत्थर लगेगा !!
सब कहते होंगे चाँद का टुकड़ा है तू !!
मेरी नजर से चाँद तेरा टुकड़ा लगेगा !!

इक अदा आपकी दिल चुराने की !!
इक अदा आपकी दिल में बस जाने की !!
चेहरा आपका चाँद सा और एक
हसरत हमारी उस चाँद को पाने की !!

पत्थर की दुनिया जज़्बात नहीं समझती !!
दिल में क्या है वो बात नहीं समझती !!
तनहा तो चाँद भी सितारों के बीच में है !!
पर चाँद का दर्द वो रात नहीं समझती !!

Bhai Behan Shayari Ih Hindi | बहन भाई की शायरी

Chand ki tarif

ऐ चाँद मुझे बता तू मेरा क्या लगता है !!
क्यूँ मेरे साथ सारी रात जगा करता है !!
मैं तो बन बैठा हूँ !! दीवाना उनके प्यार में !!
क्या तू भी किसी से बेपनाह मोहब्बत करता है !!

ढूँढता हूँ मैं जब अपनी ही खामोशी को !!
मुझे कुछ काम नहीं दुनिया की बातों से !!
आसमाँ दे न सका चाँद अपने दामन का !!
माँगती रह गई धरती कई रातों से !!

ऐ चाँद तू भूल जायेगा अपने आप को !!
जब सुनेगा दास्तान मेरे प्यार की !!
क्यूँ करता है !! तू गुरूर अपने आप पे इतना
तू तो सिर्फ़ परछाई है मेरे यार की !!

रात गुमसुम हैं मगर चाँद ख़ामोश नहीं !!
कैसे कह दूँ फिर आज मुझे होश नहीं !!
ऐसे डूबा तेरी आँखों की गहराई में आज
हाथ में जाम हैं !!मगर पीने का होश नहीं !!

चाँद निकलेगा तो दुआ मांगेंगे !!
अपने हिस्से में मुकदर का लिखा मांगेंगे !!
हम तलबगार नहीं दुनिया और दौलत के !!
हम रब से सिर्फ आपकी वफ़ा मांगेंगे !!

हर सपना ख़ुशी पाने के लिए पूरा नहीं होता !!
कोई किसी के बिना अधूरा नहीं होता !!
जो चाँद रौशन करता है रात भर को !!
हर रात वो भी पूरा नहीं होता !!

चिराग से अंधेरे दूर हो जाते !!
तो चाँद की चाहत किसे होती !!
काट सकती अकेले ये ज़िन्दगी !!
तो दोस्ती नाम की ये चीज़ ही क्यों होती !!

एक अदा आपका दिल चुराने की !!
एक अदा आपकी दिल में बस जाने की !!
चेहरा आपका चाँद सा और एक !!
हसरत हमारी उस चाँद को पाने की !!

आज भीगी हें पलके तुम्हारी याद मेंआज भीगी हें पलके तुम्हारी याद में !!
आकाश भी सिमट गया अपने आप में !!
औंस की बूँद ऐसे गिरी ज़मीन पर !!
मानो चाँद भी रोया हो तेरी की याद मे !!

काश तु चाँद और मैं सितारा होताकाश तु चाँद और मैं सितारा होता !!
आसमान में एक आशियाना हमारा भी होता !!
लोग तुम्हे सिर्फ दूर से ही निहारते !!
नज़दीक़ से देखने का हक़ सिर्फ हमारा होता !!

Chand ke upar shayari

चाँद पर कभी अंधेरा होता ही होगाचाँद पर कभी अंधेरा होता ही होगा !!
चाँद से तारो का रूठना कभी होता ही होगा !!
तुम कितना भी छुपालो हमसे !!
तुम्हारा दिल हमारे लिए धड़कता ही होगा !!

ये दिल न जाने क्या कर बैठाये दिल न जाने क्या कर बैठा !!
मुझसे बिना पूछे ही फैसला कर बैठा !!
इस ज़मीन पर टूटा सितारा भी नहीं गिरता !!
और ये पागल चाँद से मोहब्बत कर बैठा !!

आज मुद्दतों बाद मुझे मेरे चांद का दीदार तो हुआ !!
आज मुद्दतों बाद मुझे मेरे चांद का दीदार तो हुआ !!
बेशक एक दूसरे से हम गले लगकर न मिले !!
पर दो घड़ी ही सही उसका दीदार तो हुआ !!

आज भीगी हें पलके तुम्हारी याद में !!
आकाश भी सिमट गया अपने आप में !!
औंस की बूँद ऐसे गिरी ज़मीन पर
मानो चाँद भी रोया हो तेरी की याद मे !!

हर रास्ता एक सफ़र चाहता है !!
हर रास्ता एक सफ़र चाहता है !!
हर मुसाफिर एक हमसफ़र चाहता है !!
जैसे चाहती है !! चांदनी चाँद को
कोई है !! जो तुमको इस कदर चाहता है !!

नजर में आपकी नज़ारे रहेंगे पलकों पर चाँद
सितारे रहेंगेनजर में आपकी नज़ारे रहेंगे !!
पलकों पर चाँद सितारे रहेंगे !!
बदल जाये तो बदले ये ज़माना !!
हम तो हमेशा आपके दीवाने रहेंगे !!

रात भर तेरी तारीफ़ करता रहा चाँद
सेरात भर तेरी तारीफ़ करता रहा चाँद से !!
चाँद इतना जला कि सूरज हो गया !!
चाँद के साथ कई दर्द पुराने निकले !!
ग़म थे कितने जो तेरे ग़म के बहाने निकले !!

ऐ चाँद तु मुझे इतना बता तू मेरा क्या लगता है !!
ऐ चाँद तु मुझे इतना बता तू मेरा क्या लगता है !!
मेरे साथ सारी रात क्यू जगता है !!
मैं तो बन बैठा हूँ दीवाना उनके प्यार में !!
तू भी किसी से बेपनाह मोहब्बत करता है क्या !!

वैसे तो कई दोस्त है हमारे जैसे आसमान में है !!
कई तारेवैसे तो कई दोस्त है हमारे !!
जैसे आसमान में है कई तारे !!
पर आप दोस्ती के आसमान के वो चाँद है !!
जिसके सामने फीके पड़ते हैं सारे सितारे !!

ढूँढता हूँ मैं जब अपनी ही खामोशी कोढूँढता हूँ !!
मैं जब अपनी ही खामोशी को !!
मुझे कुछ काम नहीं दुनिया की बातों से !!
आसमाँ दे न सका चाँद अपने दामन का !!
माँगती रह गई धरती कई रातों से !!

Bachpan Quotes in Hindi | बचपन की यादें इन हिंदी

Shayari on moon in hindi

चाँद सा चेहरा देखने की इजाज़त दे दो
मुझेचाँद सा चेहरा देखने की इजाज़त दे दो मुझे !!
ये शाम सजाने के इजाज़त दे दो मुझे !!
क़ैद करलो अपने इश्क़ में या !!
इश्क़ करने के इजाज़त दे दो मुझे !!

चाँद तारो की कसम खाता हूँ !!
चाँद तारो की कसम खाता हूँ !!
मैं बहारों की कसम खाता हूँ !!
कोई आप जैसा नज़र नहीं आया !!
मैं नजारों की कसम खाता हूँ !!

एक ये दिन हैं जब चाँद को देखे मुद्दत बीती जाती है !!
एक ये दिन हैं जब चाँद को देखे !!
मुद्दत बीती जाती है !!
एक वो दिन थे जब चाँद खुद !!
हमारी छत पे आया करता था !!

पत्थर की दुनिया जज्बात नहीं !!
समझतीपत्थर की दुनिया जज्बात नहीं समझती !!
दिल में क्या है वो बात नहीं समझती !!
तनहा तो चाँद भी सितारों के बीच में है !!
पर चाँद का दर्द वो रात नहीं समझती !!

रात को जब चाँद सितारे चमकते है !!
रात को जब चाँद सितारे चमकते है !!
हम हरदम आपकी याद में तड़पते है !!
आप तो चले जाते हो छोड़कर हमे !!
हम रात भर आपसे मिलने को तरसते है।

Rate this post

Leave a Comment