Latest 453+ Maut Shayari In Hindi 2023 | मौत पर शायरी

Maut shayari in hindi-मौत एक प्राकृतिक प्रक्रिया है जिसमें जीवन का समापन होता है। यह एक अवश्यक और अजन्मरहित हिस्सा है जो हर जीवन का सामान्य हिस्सा होता है। मौत का आगमन हर किसी के जीवन में एक दिन होता है, लेकिन यह कब और कैसे होता है, यह अनजान होता है। मौत के बारे में अज्ञात होने के बावजूद, यह हम सभी के लिए अच्छा होता है कि हम अपने जीवन को सजाने और महत्वपूर्ण कामों को करने का प्रयास करें, क्योंकि यह अंत में हमारे कार्यों की प्रतिक्रिया करता है।

आदर्शक रूप से, हमें अपने जीवन को प्राकृतिक और साथीय तरीके से जीने की कोशिश करनी चाहिए। हमें अपने परिवार और दोस्तों के साथ समय बिताना और उनके साथ संबंध बनाना चाहिए। हमें अपने सपनों और लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए मेहनत करना चाहिए और अपने दिल की बात कहने का साहस रखना चाहिए।

मौत के बाद, हमारा आत्मा अनंत और अमर होता है, और इसके परे का जीवन होता है। इसलिए, हमें धार्मिकता और आध्यात्मिकता के माध्यम से अपने आत्मा की देखभाल करना चाहिए और प्रेम और करुणा के साथ दूसरों के साथ संबंध बनाए रखना चाहिए।

मौत हमारे जीवन का एक अटल हिस्सा है, और हमें उसे स्वागत करने और समझने का प्रयास करना चाहिए, ताकि हम अपने जीवन को अर्थपूर्ण बना सकें और मृत्यु के बाद भी हमारे कर्मों का परिणाम उत्तरण कर सकें।

मौत से तो दुनिया मरती है !!
आशिक तो प्यार से ही मर जाता है !!

death shayari,
mujhe maut chahiye shayari,
maut quotes in hindi,
sad death shayari,
maut status,
die shayari,
maut status in hindi,
ya allah mujhe maut de de,
sad death status in hindi,
love death shayari,
maut ka wallpaper,
maut in hindi,
mr shayari,
maut wali dp,

दर्द गूंज रहा दिल में शहनाई की तरह !!
जिस्म से मौत की ये सगाई तो नहीं !!

मौत का नही खौफ मगर एक दुआ है रब से !!
कि जब भी मरु तेरे होने का एहसास मेरे साथ मर जाये

ज़िंदगी इक हादसा है और कैसा हादसा !!
मौत से भी ख़त्म जिस का सिलसिला होता नहीं !!

थक गई मेरी जिन्दगी भी लोगो के जवाब देते !!
अब कही मेरी मौत न लोगो का सवाल बन जाऐ !!

अच्छाई अपनी जिन्दगी ,जी लेती हैं !!
बुराई अपनी मौत ,खुद चुन लेती है !!

जिंदगी गुजर ही जाती है तकलीफें कितनी भी हो !!
मौत भी रोकी नहीं जाती तरकीबें कितनी भी हो !!

मेरी ज़िंदगी तो गुजरी तेरे हिज्र के सहारे !!
मेरी मौत को भी कोई बहाना चाहिए !!

तलब मौत की करना गुनाह है ज़माने में यारों !!
मरने का शौक है तो मुहब्बत क्यों नहीं करते !!

जो दे रहे हो हमें ये तड़पने की सज़ा तुम !!
हमारे लिए ये सज़ा ऐ मौत से भी बदतर है !!

मौत रिश्वत नहीं लेती !!

मौत एक जीवन का अंत करती है !!
रिश्ते का नहीं !!

मृत्यु एक बड़ी राहत होगी !!
कोई और साक्षात्कार नहीं !!

संसार की सराय और मृत्यु यात्रा का अंत !!

मृत्यु ,तू अनंत है ,जीवन छोटा है !!

Maut Shayari In Hindi

अच्छे लोगों को मरना चाहिए !!
लेकिन मौत उनके नामों को नहीं मार सकती !!

एक व्यक्ति ने बहुत कुछ सीखा है !!
जिसने मरना सीख लिया है !!

मृत्यु का भय जीवन के भय से उत्पन्न होता है !!

कोई बात जरूरी नहीं कि सच हो !!
क्योंकि आदमी उसके लिए मरता है !!

जन्म लेते ही व्यक्ति की मृत्यु होने लगती है !!

मृत्यु के साथ ईमानदारी आती है !!

बुरा मत मानो,मैं आमतौर पर मरने वाला हूं !!

मृत्यु जीवन के विपरीत नहीं है !!
बल्कि उसका एक हिस्सा है !!

अगर रुक जाये मेरी धड़कन तो मौत न समझना !!
कई बार ऐसा हुआ है उसे याद करते करते !!

ज़िंदा लाशो की भीड़ है चारो तरफ !!
मौत से भी बड़ा हादसा है ज़िन्दगी !!

वो इतना रोई मेरी मौत पर मुझे जगाने के लिए !!
मैं मरता ही क्यूँ अगर वो थोडा रो देती मुझे पाने के लिए !!

ये इश्क़ बनाने वाले की मैं तारीफ करता हूं !!
मौत भी हो जाती है और कातिल भी पकड़ा नही जाता !!

मौत से बचने का सबसे शानदार तरीका है !!
दूसरे के दिलों में जिंदा रहना सीख लो !!

ना जाने आखिर इतना दर्द क्योँ देती हैँ ये मोहब्बत !!
हँसता हुआ इँसान भी दुआओ मेँ मौत माँगता है !!

सुलगती जिन्दगी से मौत आ जाये तो बेहतर है !!
अब हमसे दिल के अरमानों का मातम नही होता !!

Narazgi Shayari In Hindi 2023 | नाराजगी शायरी हिंदी

Maut Shayari

किसी कहने वाले ने भी क्या खूब कहा है कि !!
मेरी ज़िन्दगी इतनी प्यारी नहीं की मैं मौत से डरूं !!

कैद है कुछ ख़्वाब इन खुली आँखों में !!
न जाने कब जागती रातो का सवेरा होगा !!

ज़िंदगी तेरे पहलू में गुज़रने को यूँ बेताब थी !!
कमबख़्त नादानी में मौत को गले लगा बैठी !!

नफरत करने की दवा बता दो यारो !!
वरना मेरी मौत की वजह मेरा प्यार ही होगा !!

चंद सांसे है ,जो उड़ा ले जाएगी !!
इससे ज्यादा मौत मेरा ,क्या ले जाएगी !!

उसको छूना जुर्म है तो मेरी सजा-ए-मौत का इंतजाम करो !!
मेरे दिल की जिद है की आज उसे सीने से लगाना है !!

कमाल है..न जाने ये कैसा उनका प्यार का वादा है !!
चंद लम्हे की जिंदगी और नखरे मौत से भी ज्यादा हैं !!

ए मौत ,जरा पहले आना गरीब के घर !!
‘कफ़न’ का खर्च दवाओं में निकल जाता है !!

जो लोग मौत को ज़ालिम करार देते हैं !!
खुदा मिलाये उन्हें ज़िन्दगी के मारो से

ज़िंदगी है अपने क़ब्ज़े में न अपने बस में मौत !!
आदमी मजबूर है और किस क़दर मजबूर है !!

वो तो मौत की जिद थी ,सो उसकी ही चली !!
वरना टक्कर अच्छी दी थी मेरे मुल्क के सिपाही

मौत पर शायरी

न मौत आती है न कोई दवा लगती है !!
न जाने उसने इश्क में कौन सा जहर मिलाया था !!

मुझे आज भी यकीन है की तु एक दिन लौटकर आयेगा !!
चाहे वो दिन मेरी मौत का ही क्यों ना हो !!

ज़िंदगी इक सवाल है जिस का जवाब मौत है !!
मौत भी इक सवाल है जिस का जवाब कुछ नहीं !!

अब मौत से कह दो कि नाराज़गी खत्म कर ले !!
वो बदल गया है जिसके लिए हम ज़िंदा थे !!

मौत का भी इलाज हो शायद ज़िंदगी का कोई इलाज नहीं !!
फ़िराक़ गोरखपुरी !!

शुक्र है कि मौत सबको आती है !!
वरना अमीर तो इस बात का भी मजाक उड़ाते !!
कि गरीब था इसलिए मर गया !!

मौत का इंतिज़ार बाक़ी है !!
आप का इंतिज़ार था न रहा !!
फ़ानी बदायुनी !!

मरते हैं आरज़ू में मरने की !!
मौत आती है पर नहीं आती !!
मिर्ज़ा ग़ालिब !!

कम से कम मौत से ऐसी मुझे उम्मीद नहीं !!
ज़िंदगी तू ने तो धोके पे दिया है धोका !!
फ़िराक़ गोरखपुरी !!

Suvichar In Hindi 2023 | सुविचार हिंदी में

Death shayari

माँ की आग़ोश में कल मौत की आग़ोश में !!
आज हम को दुनिया में ये दो वक़्त सुहाने से मिले !!
कैफ़ भोपाली !!

दुनिया मेरी बला जाने महँगी है या सस्ती है !!
मौत मिले तो मुफ़्त न लूँ हस्ती की क्या हस्ती है !!
फ़ानी बदायुनी !!

आई होगी किसी को हिज्र में मौत !!
मुझ को तो नींद भी नहीं आती !!
अकबर इलाहाबादी !!

बूढ़ों के साथ लोग कहाँ तक वफ़ा करें !!
बूढ़ों को भी जो मौत न आए तो क्या करें !!
अकबर इलाहाबादी !!

बला की चमक उस के चेहरे पे थी !!
मुझे क्या ख़बर थी कि मर जाएगा !!
अहमद मुश्ताक़ !!

करूँ क्यों फ़िक्र मौत के बाद जगह कहाँ मिलेगी !!
जहाँ होगी दोस्तों की महफिलें !!
मेरी रूह वहाँ मिलेगी

यूँ तो हादसों में गुजरी है हमारी जिंदगी !!
हादसा यह भी कम नही की !!
हमें मौत न मिली !!

बहर-ए-ग़म से पार होने के लिए !!
मौत को साहिल बनाया जाएगा !!
जलील मानिकपूरी !!

Best Hunting Caption For Instagram

Mujhe maut chahiye shayari

मौत से किस को रुस्तगारी है !!
आज वो कल हमारी बारी है !!
मिर्ज़ा शौक़ लखनवी !!

मौत ख़ामोशी है चुप रहने से चुप लग जाएगी !!
ज़िंदगी आवाज़ है बातें करो बातें करो !!
अहमद मुश्ताक़ !!

कैसे आ सकती है ऐसी दिल-नशीं दुनिया को मौत !!
कौन कहता है कि ये सब कुछ फ़ना हो जाएगा !!
अहमद मुश्ताक़ !!

न जाने किस गुनाह की सजा दे दी !!!!
उसे लिखकर किसी ओर के नसीब में !!
मेरे खुदा ने ही मुझे मौत दे दी !!

वफा सीखनी है तो मौत से सीखो !!
जो एक बार अपना बना ले तो !!
फिर किसी का होने नहीं देती !!

एक मुर्दे ने क्या खूब कहा है !!
ये जो मेरी मौत पर रो रहे है !!
अभी उठ जाऊं तो जीने नहीं देंगे !!

हाथ पढ़ने वाले ने तो परेशानी में डाल दिया मुझे !!
लकीरें देख कर बोला , तु मौत से नहीं !!
किसी की याद में मरेगा !!

एक मुर्दे ने क्या खूब कहा है !!
ये जो मेरी मौत पर रो रहे है !!
अभी उठ जाऊं तो जीने नहीं देंगे !!

वफ़ा सीखनी है तो मौत से सीखो !!
जो एक बार अपना बना ले !!
फिर किसी का होने नहीं देती !!

Hippie Quotes On Success In Life

Maut quotes in hindi

एक आदमी प्यार या अपने जिगर !!
या बुढ़ापे से नहीं मरता !!
वह आदमी होने से मरता है !!

बे-तअल्लुक़ ज़िंदगी अच्छी नहीं !!
ज़िंदगी क्या मौत भी अच्छी नहीं !!
हफ़ीज़ जालंधरी !!

मौत जीवन में सबसे बड़ा नुकसान नहीं है !!
ई सबसे बड़ा नुकसान वह है जो !!
हमारे रहते हुए हमारे अंदर मर जाता है !!

मौत की वादियों से मैं कभी !!
खुद को बचा तो न पाऊँगी !!
पर जब तक चली साँसे !!
कसम तेरी ये मोहब्बत निभाऊंगी !!

मौत की चिंता नहीं सताती मुझे !!
मेरे सपनों का अधूरापन सताता है !!
आज भी दिल में जल रही है
आग मेरा जूनून बताता है !!

मोहब्बत और मौत दोनों बिन बुलाए मेहमान होते है !!
कब आजाए कोई नहीं जानता लेकिन !!
दोनो का एक ही काम है एक को दिल चाहिए !!
दुसरी को धड़कन !!

कितना और दर्द देगा बस इतना बता दे !!
ऐसा कर ऐ खुदा मेरी हस्ती मिटा दे !!
ये घुट घुट कर जीने से तोह मौत बेहतर है !!
में कभी न जागूँ मुझे ऐसे नींद सुला दे !!

एक दिन जब हुआ इश्‍क का एहसास उन्‍हें !!
वो हमारे पास आ कर सारा दिन रोते रहे !!
और हम भी इतने खुदगरज निकले यारों कि !!
आँखे बंद कर के कफन में सोते रहे !!

Sad death shayari

ये जमीं जब खून से तर हो गई है !!
जिन्दगी कहते हैं बेहतर हो गई है !!
हाथ पर मत खींच बेमतलब लकीरें !!
मौत हर पल अब मुकद्दर हो गई है !!

किसी को दिल से चाहना बुरा तो नहीं किसी !!
को दिल में बसना बुरा तो नहीं गुनाह गोगा !!
ज़माने की नजर में तो क्या हुआ ज़माने !!
वाले भी इंसान है कोई भगवान तो नहीं !!

जिसकी याद में सारे जहाँ को भूल गए !!
सुना है आजकल वो हमारा नाम तक भूल गए !!
कसम खाई थी जिसने साथ निभाने की यारो !!
आज वो हमारी लाश पर आना भूल गए !!

चंद साँसे बची हैं आखिरी दीदार दे दो !!
झूठा सही एक बार मगर प्यार दे दो !!
ज़िन्दगी तो वीरान थी पर मौत तो गुमनाम न हो !!
मुझे गले लगा लो फिर मौत मुझे हज़ार दे दो !!

कितना और दर्द देगा बस इतना बता दे !!
ऐसा कर ऐ खुदा मेरी हस्ती मिटा दे !!
यूँ घुट-घुट के जीने से मौत बेहतर है !!
मैं कभी न जागूं मुझे ऐसी नींद सुला दे !!

वादे तो हजारों किये थे उसने मुझसे !!
काश एक वादा उसने निभाया होता !!
मौत का किसको पता कि कब आएगी !!
पर काश उसने जिंदा दफनाया न होता !!

सुहाना मौसम और हवा में नमी होगी !!
आंसुओं की बहती नदी न थमी होगी !!
मिलना तो हम तब भी चाहेंगे आपसे !!
जब आपके पास वक़्त और !!
हमारे पास साँसों की कमी होगी !!

मिटटी मेरी कब्र से उठा रहा है कोई !!
मरने के बाद भी याद आ रहा है कोई !!
कुछ पल की मोहलत और दे दे ए खुदा !!
उदास मेरी कब्र से जा रहा है कोई !!

Maut status

जब हुआ मेरे इश्क का एहसास उन्हें !!
आकर वो पास सारा दिन रोते रहे !!
हम भी निकले खुद-गर्ज इतने यारो !!
कफ़न में आँख बंद किये सोते रहे !!

तूफ़ान है जिंदगी तो साहिल है तेरी दोस्ती !!
सफ़र है मेरी जिंदगी मंजिल है तेरी दोस्ती !!
मौत के बाद मिल जायेगी मुझे जन्नत !!
जिंदगी भर रहे अगर कायम तेरी दोस्ती !!

जब तेरी नजरों से दूर हो जायेंगे हम !!
दूर फिजाओं में कहीं खो जायेंगे हम !!
मेरी यादों से लिपट कर रोने आओगे तुम !!
जब जमीन को ओढ़ कर सो जायेंगे हम !!

प्यार में सब कुछ भुलाये बैठे हैं !!
चिराग यादों के जलाये बैठे हैं !!
हम तो मरेंगे उनकी ही यादों में !!
यह मौत से शर्त लगाये बैठे हैं !!

एक दिन हम भी कफ़न ओढ़ जायेंगे !!
सब रिश्ते इस जमीन से तोड़ जायेंगे !!
जितना जी चाहे सता लो तुम मुझे !!
एक दिन रोता हुआ सबको छोड़ जायेंगे !!

धरती के गम छुपाने के लिए गगन होता है !!
दिल के गम छुपाने के लिए बदन होता है !!
मर के भी छुपाने होंगे गम शायद !!
इसलिए हर लाश पर कफ़न होता है.

हर काम किया मैंने उसकी ख़ुशी के लिए !!
जाने तब भी क्यूँ बेवफा कहलाता हूँ !!
मौत से पहले उसकी दीदार की ख्वाहिश है मेरी !!
बस इसलिए ज़िन्दगी का साथ निभाता हूँ !!

मोहब्बत मुझे थी उसी से सनम !!
यादों में उसकी यह दिल तड़पता रहा !!
मौत भी मेरी चाहत को रोक न सकी !!
कब्र में भी यह दिल धड़कता रहा !!

एक दिन निकला सैर को मेरे दिल में कुछ अरमान थे !!
एक तरफ थी झाड़ियाँ… एक तरफ श्मशान थे !!
पैर तले इक हड्डी आई उसके भी यही बयान थे !!
चलने वाले संभल कर चलना हम भी कभी इंसान थे !!

Die shayari

कीमत पानी की नहीं ,प्यास की होती हैं !!
कीमत मौत की नहीं ,सांस की होती हैं !!
प्यार तो बहुत करते हैं ,दुनिया में !!
कीमत प्यार की नहीं,विश्वास की होती हैं !!

जलोगे तुम भी तड़प में किसी से !!
जब तुम्हे सच्चा प्यार होगा !!
मेरे चिता की आग जब देखोगे तुम्हे !!
प्यार का मेरे एहसास होगा !!

एक दिन हम भी कफ़न ओढ़ जायेंगे !!
सब रिश्ते इस जमीन से तोड़ जायेंगे !!
जितना जी चाहे सता लो तुम मुझे !!
एक दिन रोता हुआ सबको छोड़ जायेंगे !!

मौत मांगते है तो ज़िन्दगी खफा हो जाती है !!
जहर लेते है तो वो भी दवा हो जाती है !!
तु बता ऐ ज़िन्दगी तेरा क्या करू !!
जिसको भी चाहा वो बेवफा हो जाती है !!

मेरे मरने के बाद हमारा प्यार याद करोगे !!
तेरी दुनिया को छोड़कर अब ना वापस आएंगे !!
हम भी अपने खुदा के पास तेरा खत दिखाएंगे !!
तेरी हर एक जुर्म की कहानी अपने रब को सुनाएंगे !!

मैंने खुदा से एक दुआ मांगी !!
दुआ में अपनी मौत मांगी !!
खुदा ने कहा मौत तो तुझे दे दूँ !!
पर उसका क्या जिसने हर दुआ में तेरी जिंदगी मांगी !!

ऐ मौत,मैं तुझे गले लगाना चाहता हूँ !!
कितनी वफ़ा है तुझ में यह आज़माना चाहता हूँ !!
रुलाया है बहुत दुनिया में लोगो ने मुझे !!
मिले जो तेरा साथ तो मैं लोगो को रुलाना चाहता हूँ !!

मेरी हर खता पे नाराज न होना !!
अपनी प्यारी सी मुस्कान कभी न खोना !!
सुकून मिलता है देख कर आपकी हंसी को !!
मुझे मौत भी आ जाये तो भी न रोना !!

मेरे चहरे से कफन को हटा कर !!
जरा दीदार तो कर लो !!
ऐ बेवफा बंद हो गई है वो आंखे !!
जिन्हे तुम रुलाया करते थे !!

पता नहीं कौन सा जहर मिलाया था !!
मोहब्बत में तुमने !!
न जिंदगी अच्छी लगती हैं !!
ना हीं मौत आती हैं !!

कितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता !!
किसी की बर्बादी का किस्सा सुनाया नहीं जाता !!
एक बार जी भर के देख लो इस चहरे को !!
क्यूंकि बार बार कफन उठाया नहीं जात !!

न जाने किस गुनाह की सजा दे दी !!
उसे लिखकर किसी ओर के नसीब में !!
मेरे खुदा ने ही मुझे मौत दे दी !!

Maut status in hindi

वादे तो हजारों किये थे उसने मुझसे !!
काश एक वादा ही उसने निभाया होता !!
मौत का किसको पता कि कब आएगी !!
पर काश उसने जिन्दा न जलाया होता !!

इक तुम हो जिसे प्यार भी याद नहीं !!
इक में हूँ जिसे और कुछ याद नहीं !!
जिन्दगी मौत के दो ही तो तराने हैं !!
इक तुम्हें याद नहीं इक मुझे याद नही !!

क्या कहूँ तुझे ख्वाब कहूँ तो टूट जायेगा !!
दिल कहूँ तो बिखर जायेगा !!
आ तेरा नाम जिन्दगी रख दूँ !!
मौत से पहले तो तेरा साथ छूट न पायेगा !!

“आसमान के परे मुकाम मिल जाए !!
खुदा को मेरा ये पैगाम मिल जाए !!
थक गयी है धड़कनें अब तो चलते चलते !!
ठहरे ये सांसे तो शायद आराम मिल जाए !!

एक दिन हम भी कफन ओढ़ जायेंगे !!
सब रिश्ते इस जमीन से तोड़ जायेंगे !!
जितना जी चाहे सता लो मुझे !!
एक दिन रोते हुए सबको छोड़ जायेंगे !!

चूम कर कफन में लपटे मेरे चेहरे को !!
उसने तड़प के कहा !!
नए कपड़े क्या पहन लिए !!
तो हमें देखते भी नहीं !!

हमारे प्यार का यूँ इम्तिहान न लो !!
करके बेरुखी मेरी तुम जान न लो !!
एक इशारा कर दो हम खुद मर जाएंगे !!
हमारी मौत का खुद पे इल्ज़ाम न लो !!

आँख की ये एक हसरत थी कि बस पूरी हुई !!
आँसुओं में भीग जाने की हवस पूरी हुई !!
आ रही है जिस्म की दीवार गिरने की सदा !!
एक अजब ख्वाहिश थी जो अबके बरस पूरी हुई !!

उन दो पंक्तियों में !!
मैंने अपनी पूरी कहानी लिख दी !!
मौत बड़ी पास से गुजरी !!
जिन्द़गी ने होंठों पर झूठी मुस्कुराहट रख दी !!

चंद साँसे बची हैं आखिरी बार दीदार दे दो !!
झूठा ही सही एक बार मगर तुम प्यार दे दो !!
ज़िन्दगी तो वीरान थी मौत भी गुमनाम ना हो !!
मुझे गले लगा लो फिर चाहे मौत हजार दे दो !!

प्यार में सब कुछ भुलाए बैठे हैं !!
चिराग यादों के जलाये बैठे है !!
हम तो मरेंगे उनकी ही बाहों में !!
ये मौत से शर्त लगाये बैठे हैं !!

मोहब्बत मुझे थी बस तुम्हीं से सनम !!
यादों में तुम्हारी यह दिल तड़पता रहा !!
मौत भी मेरी चाहत को रोक न सकी !!
कब्र में भी यह दिल धड़कता रहा !!

ये जमीं जब खून से तर हो गई है !!
ज़िन्दगी कहते हैं बेहतर हो गई है !!
हाथ पर मत खींच बेमतलब लकीरें !!
मौत हर पल अब मुक़द्दर हो गई है !!

जो आपने न लिया हो,ऐसा कोई इम्तिहान न रहा !!
इंसान आखिर मोहब्बत में इंसान न रहा !!
है कोई बस्ती,जहां से न उठा हो ज़नाज़ा दीवाने का !!
आशिक की कुर्बत से महरूम कोई कब्रिस्तान न रहा !!

लम्हा लम्हा सांसें खत्म हो रही हैं !!
ज़िन्दगी मौत के पहलू में सो रही है !!
उस बेवफा से ना पूछो मेरी मौत की वजह !!
वह तो ज़माने को दिखाने के लिए रो रही है !!

आंखें खुली हो तो चेहरा तुम्हारा हो !!
आँखें बंद हो तो सपना तुम्हारा हो !!
मुझे मौत का डर नहीं होगा !!
अगर कफ़न की जगह दुपट्टा तुम्हारा हो !!

अब तक हम मुन्तजिर हैं जिनके ऐ खुदा !!
उनको हमारा ख्याल तक न आया !!
उनके इश्क में हमारी जान तक चली गयी !!
और उनको हमारी मौत का मलाल तक न आया !!

मोहब्बत के नाम पे दीवाने चले आते हैं !!
शमा के पीछे परवाने चले आते हैं !!
तुम्हें याद न आये तो चले आना मेरी मौत पर !!
उस दिन तो बेगाने भी चले आते हैं !!

Love death shayari

कल अगर फुर्सत न मिली तो क्या होगा !!
इतनी मोहलत न मिली तो क्या होगा !!
रोज़ कहते हो कल मिलेंगे कल मिलेंगे !!
कल ये आँखे न खुली तो क्या होगा !!

तुम दर्द भी हो मेरा और दर्द की दवा भी हो !!
मेरी मौत का कारण भी हो तुम,जीने की वजह भी हो !!
खुली नज़रो से तुम दूर हो बहुत मुझसे !!
बंद आँखों में हर जगह मेरे पास भी हो तुम !!

क्या कहूँ तुझे… ख्वाब कहूँ तो टूट जायेगा !!
दिल कहूँ ,तो बिखर जायेगा !!
आ तेरा नाम ज़िन्दगी रख दूँ !!
मौत से पहले तो तेरा साथ छूट न पायेगा !!

Rate this post

Categories Sad

Leave a Comment