Latest 453+ Republic Day Shayari in Hindi 2024 | गणतंत्र दिवस पर शायरी

Republic Day Shayari in Hindi- गणतंत्र दिवस, भारत के महत्वपूर्ण राष्ट्रीय त्योहारों में से एक है। यह दिन भारतीय संविधान के प्रभाव से लौटता है और हर साल 26 जनवरी को मनाया जाता है। इस दिन, हम भारतीय संविधान के अधिकारों और मूल धर्मों की सराहना करते हैं और गर्व से अपने देश के संविधानिक स्वतंत्रता को मनाते हैं।गणतंत्र दिवस का महत्व भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के महान महापुरुषों के संग्राम और बलिदान को याद करने के लिए भी है,

जैसे कि महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू, सरदार वल्लभभाई पटेल, और बहुत से अन्य वीर योद्धाओं के जीवन और कार्य को याद करने का दिन।इस दिन, राजपथ पर दिल्ली में गणतंत्र दिवस की परेड आयोजित की जाती है, जिसमें सेना, नौसेना, और वायुसेना के सैनिक और विभिन्न राज्यों की जनता भाग लेती है। इस दिन भारतीय राष्ट्रीय झंडा भी ऊँचाई पर लहर उड़ता है, और राष्ट्रीय गीत “जन गण मन” का गान किया जाता है।गणतंत्र दिवस का महत्व यह भी है कि इस दिन भारतीय संविधान की स्वीकृति के बाद, भारत गणराज्य बना था, जिससे देश के नागरिकों को बराबरी, स्वतंत्रता, और न्याय का अधिकार मिला।

क्या जवानी क्या बुढ़ापा सब आज़ादी का दीवाना था !!
हर जिगर में जोश था आँखों का एक खवाब था !!

Top 30 Republic Day Shayari in Hindi Font,
26 January Republic Day Shayari,
 Republic Day Shayari,
Desh bhakti shayari,
26 januaruy shayari,
गणतंत्र दिवस पर शेर,
Republic Day Wishes,
Happy Republic Day Wishes,
Republic Day 2023 Shayari in Hindi,
26 January Happy Republic Day Shayari in Hindi,

बहन ने भाई की कलाई पर बाँध राखी आज़ादी थी माँगी !!
माँ ने दूजी माँ का कर्ज़ चुकाने का वादा लिया था !!

अफ़सोस होता है आज वतन की हालत देख कर !!
क्या इसी दिन के खातिर शहीदों ने खून क़ुरबान किया था !!

जिक्र अगर हीरो का होगा !!
तो नाम हिंदुस्तान के वीरों का होगा !!

अजल से वे डरें जीने को जो अच्छा समझते हैं !!
मियाँ हम चार दिन की जिन्दगी को क्या समझते हैं !!

कुछ कर गुजरने की अगर तमन्ना उठती हो दिल में !!
भारत माँ का नाम सजाओ दुनिया की महफिल में !!

हम लाएं है तूफ़ान से कश्ती निकाल के !!
इस देश को रखना मेरे बच्चों संभाल के !!

ना सर झुका है कभी और ना झुकायेंगे कभी !!
जो अपने दम पे जियें सच में ज़िन्दगी है वही !!

इस दिन के लिए वीरों ने अपना खून बहाया है !!
झूम उठो देशवासियों गणतंत्र दिवस फिर आया है !!

जमाने भर में मिलते है आशिक कई !!
मगर वतन से खुबसूरत कोई सनम नही होता !!

दिल एक है जान एक है हमारी !!
हिंदुस्तान हमारा है ये शान है हमारी !!

Republic Day Shayari in Hindi

ना पूछो ज़माने से कि क्या हमारी कहानी है !!
हमारी पहचान तो बस इतनी है कि हम सब हिन्दुस्तानी है !!

सारे जहाँ से अच्छा हिंदुस्तान हमारा !!
हम बुलबुले है इसके ये गुलसिता हमारा !!

याद रखेंगे वीरो तुमको हरदम यह बलिदान तुम्हारा है !!
हमको तो है जान से प्यारा यह गणतंत्र हमारा है !!

अनेकता में एकता.ही हमारी शान है !!
इसीलिए.मेरा भारत महान है !!

वतन की सर-ज़मीं से इश्क़ ओ उल्फ़त हम भी रखते है !!
खटकती जो रहे दिल में वो हसरत हम भी रखते है !!

भलाई ये कि आज़ादी से उल्फ़त तुम भी रखते हो !!
बुराई ये कि आज़ादी से उल्फ़त हम भी रखते है !!

सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है !!
देखना है ज़ोर कितना बाज़ू-ए-क़ातिल में है !!

मेरे जज़्बातों से इस कदर वाकिफ है मेरी कलम !!
मैं इश्क़ भी लिखना चाहूँ तो भी इंकलाब लिख जाता है !!

वतन की ख़ाक ज़रा एड़ियाँ रगड़ने दे !!
मुझे यक़ीन है पानी यहीं से निकलेगा !!

ऐ शांति’अहिंसा की उड़ती हुई परी !!
आ तू भी आ कि’आ गई 26 जनवरी !!

है इस हवा में क्या क्या बरसात की बहारें !!
सब्ज़ों की लहलहाहट बाग़ात की बहारें !!

हम शहीदों को कभी मुर्दा नहीं कहते ‘अनीस’ !!
रिज़्क़ जन्नत में मिले शान यहाँ पर बाक़ी !!

दिल एक है और जान एक है !!
हिन्दोस्तान हमारा और हम इसकी शान हैं !!

Badmashi Shayari In Hindi | बदमाशी स्टेटस

Republic Day Shayari

कहते हैं तुझसे ए-दुश्मन मत ले हमारा इम्तेहान !!
तू क्या जाने ताकत वतन की जिसे सब कहते हैं हिन्दुस्तान !!

देश भक्तों के बलिदान से स्वतंत्र हुए हैं हम !!
कोई पूछे कौन हो तो गर्व से कहेंगे भारतीय हैं हम !!
गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं !!

आन देश की शान देश की देश की हम संतान है !!
तीन रंगों से रंगा तिरंगा अपनी ये पहेचान है !!
गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभ कामनाएं !!

ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई !!
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता !!
नोटों में भी लिपट कर.सोने में सिमटकर मरे हे कई !!

आन देश की शान देश की देश की हम संतान है !!
तीन रंगों से रंगा तिरंगा अपनी ये पहचान है !!
गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं !!

ना सर झुका है कभी और ना झुकाएंगे कभी !!
जो अपने दम पे जिए सच में जिंदगी है वही !!
गणतंत्र दिवस की बधाई !!

नफरत करना है बुरी बात !!
देश की उन्नति के लिए चाहिए सबका साथ !!
न करो तेरा-मेरा ये देश तो है हम सबका !!

वो शमा जो काम आये अंजुमन के लिए !!
वो जज्बा जो कुर्बान हो जाये वतन के लिए !!
रखते है हम वो हौसले भी जो मर मिटे हिंदुस्तान के लिए !!

भूख’गरीबी’लाचारी को’इस धरती से आज मिटायेंगे !!
भारत के भारतवासी को’उसके सब अधिकार दिलायेंगे !!
आओ सब मिलकर नये रूप में गणतंत्र मनायें !!

आन देश की शान देश की !!
देश की हम संतान हैं !!
तीन रंगों से रंगा तिरंगा !!
अपनी ये पहचान है !!

मुकुट हिमालय !!
हृदय में तिरंगा !!
आँचल में गंगा लायी हैं !!
सब पुण्य कला और !!
रत्न लुटाने देखो !!
भारत माता आयी हैं !!

Shayari On Friendship In Hindi | फ्रेंडशिप शायरी हिंदी

गणतंत्र दिवस पर शायरी

आन देश की शान देश की !!
देश की हम संतान हैं !!
तीन रंगों से रंगा तिरंगा !!
अपनी ये पहचान है !!

आओ झुक कर सलाम करे उनको !!
जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है !!
खुशनसीब होता है वो खून !!
जो देश के काम आता है !!
गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं !!

तैरना है समुद्र में तैरो !!
नदी नालों में क्या रखा है !!
प्यार करना है तो वतन से करो !!
इन बेवफा लोगों में क्या रखा है !!

ना जियो धर्म के नाम पर !!
ना मरो धर्म के नाम पर !!
इंसानियत ही है धर्म वतन का !!
बस जियो वतन के नाम !!

चढ़ गये जो हंसकर सूली !!
खाई जिन्होंने सीने पर गोली !!
हम उनको प्रणाम करते हैं !!
जो मिट गए देश के लिए !!
हम उनको सलाम करते हैं !!

तिरंगा लहरायेंगे !!
भक्ति गीत गुनगुनाएंगे !!
वादा करो इस देश को !!
दुनिया का सबसे प्यारा देश बनायेंगे !!

आन देश की शान देश की !!
देश की हम संतान है !!
तीन रंगों से रंगा तिरंगा !!
अपनी ये पहचान है !!

बलिदानों का सपना जब सच हुआ !!
देश तभी आजाद हुआ !!
आज सलाम करे उन वीरों को !!
जिनकी शहादत से ये भारत गणतंत्र हुआ !!

Pyar Kaise Hota Hai | प्यार कैसे होता है

Top 30 Republic Day Shayari in Hindi Font

तिरंगा हमारा है शान-ए-जिंदगी !!
वतन परस्ती है वफ़ा-ए-जिंदगी !!
देश के लिए मर मिटना कबूल है हमें !!
अखण्ड भारत के स्वप्न का जूनून है हमें !!

काँटों में फूल खिलाएं !!
इस धरती को स्वर्ग बनायें !!
आओ सबको गले लगायें
हम गणतंत्र का पर्व मनाएं !!

ना सरकार मेरी है !!
ना रौब मेरा है !!
ना बड़ा सा नाम मेरा है !!
मुझे तो एक छोटी सी बात का गर्व है !!
मैं “हिन्दुस्तान” का हूँ और “हिन्दुस्तान” मेरा है !!

दाग गुलामी का धोया है जान लुटाकर !!
दीप जलाये है कितने दीप भुझाकर !!
मिली है जब यह आज़ादी तो फिर इस आज़ादी को !!
रखना होगा हर दुश्मन से आज बचाकर !!

तीन रंग का है तिरंगा !!
ये ही मेरी पहचान है !!
शान देश की आन देश की !!
हम तो इसकी ही सन्तान है !!

वतन हमारा मिसाल मोहब्बत की !!
तोड़ता है दीवार नफरत की !!
खुशनसीबी हमारी जो मिली जिंदगी इस चमन में !!
भुला ना सकेंगे इसकी खुशबु सातों जन्म में !!

चलो फिर से आज वो नजारा याद कर लें !!
शहीदों के दिलो में थी जो वो ज्वाला याद कर लें !!
जिसमें बहकर आजादी पहुची थी किनारे पे !!
देशभक्ति के खून की वो धारा याद कर लें !!

मैं तो सोया था गहरी नींद में !!
सरहद पर था जवान जागा रात सारी !!
ये सोचकर नींद मेरी उड़ गयी !!
जवान कर रहा रक्षा हमारी !!

देशभक्तों से ही देश की शान है !!
देशभक्तों से ही देश का मान है !!
हम उस देश के फूल है यारों !!
जिस देश का नाम हिंदुस्तान है !!

Keep Pushing Quotes

26 January Republic Day Shayari

बता दो आज इन हवाओं को !!
जलाकर रखो इन चिरागों को !!
लहू देकर जो ली आजादी !!
टूटने ना देना ऐसे प्रेम के धागों को !!

कुछ नशा तिरंगे की आन का है !!
कुछ नशा मातृभूमि की शान का है !!
हम लहरायेंगे हर जगह ये तिरंगा !!
नशा ये हिंदुस्तान के सम्मान का है !!

राष्ट्र के लिए मान-सम्मान रहे !!
हर एक दिल में हिन्दुस्तान रहे !!
देश के लिए एक-दो तारीख नही !!
भारत माँ के लिए ही हर सांस रहे !!

आज शहीदों ने है तुमको अहले वतन ललकारा !!
तोड़ो गुलामी की जंजीरें बरसाओ अंगारा !!
हिन्दू-मुस्लिम-सिख हमारा भाई-भाई प्यारा !!
यह है आजादी का झंडा इसे सलाम हमारा !!

लहराएगा तिरंगा अब सारे आसमां पर !!
भारत का नाम होगा सब की जुबान पर !!
ले लेंगे उसकी जान या दे देंगे अपनी जान !!
कोई जो उठाएगा आँख हमारे हिंदुस्तान पर !!

चलो फिर से खुद को जगाते है !!
अनुशासन का डंडा फिर घुमाते है !!
सुनहरा रंग है गणतंत्र का शहीदों के लहू से !!
ऐसे शहीदों को हम सब सर झुकाते है !!

मेरे हर कतरे-कतरे में हिंदुस्तान लिख देना !!
और जब मौत हो तन पे तिरंगे का कफन देना !!
यही ख्वाहिश खुदा हर जन्म हिन्दुस्तान वतन देना !!
अगर देना तो दिल में देशभक्ति का चलन देना !!

इंडियन होने पर करीए गर्व !!
मिलके मनाएं लोकतंत्र का पर्व !!
देश के दुश्मनों को मिलके हराओ !!
हर घर पर तिरंगा लहराओ !!

गाँधी स्वपन जब सत्य बना !!
देश तभी जब गणतंत्र बना !!
आज फिर से याद करे वह मेहनत !!
जो थी की वीरों ने और भारत गणतंत्र बना !!

 Republic Day Shayari

मेरे देश का मान हमेशा बनाये रखूँगा !!
दिल तो क्या जान भी इस पर न्योछावर करूँगा !!
अगर मिले मौका देश के काम आने का !!
तो बिना कफ़न के ही देश के लिए सो जाऊंगा !!

आओ झुककर सलाम करे उनको !!
जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है !!
खुशनसीब होता है वो खून !!
जो देश के काम आता है !!

संस्कार संस्कृति और शान मिले !!
ऐसे हिन्दू मुस्लिम और हिंदुस्तान मिले !!
रहे हम सब ऐसे मिल-झुलकर !!
मंदिर में अल्लाह और मस्जिद में भगवान मिले !!

आजादी का जोश कभी काम ना होने देंगे !!
जब भी जरुरत पड़ेगी देश के लिए जान लूटा देंगे !!
क्योंकि भारत हमारा देश है !!
अब दोबारा इस पर कोई आंच ना आने देंगे !!

ये बात हवाओ को बताये रखना !!
रोशनी होगी चिरागों को जलाये रखना !!
लहू देकर जिसकी हिफाज़त हमने की !!
ऐसे तिरंगे को सदा दिल में बसाये रखना !!

वतन हमारा ऐसा कोई ना छोड़ पाये !!
रिश्ता हमारा ऐसा कोई ना तोड़ पाये !!
दिल एक है एक है जान हमारी !!
हिंदुस्तान हमारा है हम इसकी शान है !!

ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई !!
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता !!
नोटों में भी लिपटकर !!
सोने में सिमटकर मरे है कई !!
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता !!
जय हिन्द !!

देश भक्तों के बलिदान से !!
स्वतंत्र हुए है हम !!
कोई पूछे कौन हो !!
तो गर्व से कहेंगे !!
भारतीय है हम !!
हैप्पी गणतंत्र दिवस !!

Desh bhakti shayari

अलग है भाषा’धर्म जात !!
और प्रांत’भेष’परिवेश !!
पर हम सबका एक ही गौरव है !!
राष्ट्रध्वज तिरंगा श्रेठ !!
Happy Republic Day !!

वो फिर आया है नये सवेरे के साथ !!
मिलज़ुलकर रहेंगे हम एक दूजे के साथ !!
वो तिरंगा कितना प्यारा है !!
वो है देखो सबसे प्यारा न्यारा !!
आने ना देंगे उसपे आंच !!

भारत के गणतंत्र का’सारे जग में मान !!
दशकों से खिल रही’उसकी अद्भुत शान !!
सब धर्मों को देकर मान रचा गया इतिहास !!
इसीलिए हर देशवासी को इसमें है विश्वास !!
हॅपी रिपब्लिक डे 2023 !!

आओ देश का सम्मान करे !!
शहीदों की शहादत याद करे !!
एक बार फिर से राष्ट्र की कमान !!
हम हिन्दुस्तानी अपने हाथ धरे !!
आओ’गणतन्त्र दिवस का मान करे !!

ये नफरत बुरी है ना पालो इसे !!
दिलों में नफरत है निकालो इसे !!
ना तेरा’ना मेरा’ना इसका’ना उसका !!
ये सब का वतन है बचा लो इसे !!
जय हिन्द जय भारत वन्दे मातरम् !!

आज़ादी की कभी शाम ना होने देंगे !!
शहीदों की कुर्बानी बदनाम ना होने देंगे !!
बची है जो 1 बूँद भी लहू की तो !!
भारत माँ का आँचल नीलाम ना होने देंगे !!
हॅपी रिपब्लिक डे 2023 !!

मैं मुस्लिम हूँ तू हिंदू है है दोनो इंसान !!
ला मैं तेरी गीता पढ़ लूँ तू पढ़ ले क़ुरान !!
अपने तो दिल में है दोस्त बस एक ही अरमान !!
एक थाली में खाना खाए सारा हिन्दुस्तान !!

26 januaruy shayari

नहीं सिर्फ जशन मनाना !!
नहीं सिर्फ झंडे लहराना !!
ये काफी नहीं है वतन पर !!
यादों को नहीं भुलाना !!
जो कुर्बान हुए उनके लफ़्ज़ों को आगे बढ़ाना !!
खुदा के लिए नहीं !!
ज़िन्दगी वतन के लिए लुटाना !!

तैरना है तो समंदर में तैरो !!
नदी और नैहरो में क्या रखा है !!
प्यार में मरना है तो वतन पे मरो !!
वतन पे मरोगे तो नाम होगा !!
किसी और के प्यार में मरोगे तो नाम बदनाम होगा !!

रखना होगा हर दुश्मन से आज बचाकर !!
राष्ट्र के लिए मान-सम्मान रहे !!
हर एक दिल में हिन्दुस्तान रहे !!
देश के लिए एक-दो तारीख नही !!
भारत माँ के लिए ही हर साँस रहे !!
गणतंत्र दिवस की बधाई !!

पंखो को फैलाये मोर तो बहुत देखे है !!
आसमां में छाये बादल भी बहुत बार देखे है !!
शोर भी बारिश के 1000 देखे है !!
जब से है तू मिला मेरा चेहरा झट से खिला !!
Jai Hind – Happy Republic day !!

चलो फिर से खुद को जगाते है !!
अनुशासन का डंडा फिर घुमाते है !!
याद करें उन शूरवीरों की कुर्बानी !!
जिनके कारण हम इस लोकतंत्र का आनंद उठाते है !!

जब देश में थी दीवाली !!
वो खेल रहे थे होली !!
जब हम बैठे थे घरों में !!
वो झेल रहे थे गोली !!

देश भक्तों के बलिदान से स्वतंत्र हुए है हम !!
कोई पूछे कौन हो !!
तो गर्व से कहेंगे !!
भारतीय है हम !!

भारत माता तेरी गाथा !!
सबसे उँची तेरी शान !!
तेरे आगे शीश झुकाए !!
दे तुझको हम सब सम्मान !!

मैं इसका हनुमान हूँ !!
ये देश मेरा राम है !!
छाती चीर के देख लो !!
अन्दर बैठा हिन्दुस्तान है !!

वतन हमारा ऐसा कोई न छोड़ पाये !!
रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये !!
दिल एक है एक है जान हमारी !!
हिंदुस्तान हमारा है हम इसकी शान है !!
Happy Republic Day !!

गणतंत्र दिवस पर शेर

ना जियो धर्म के नाम पर !!
ना मरों धर्म के नाम पर !!
इंसानियत ही है धर्म वतन का !!
बस जियो वतन के नाम !!

बलिदानों का सपना जब सच हुआ !!
देश तभी आजाद हुआ !!
आज सलाम करे उन वीरों को !!
जिनकी शहादत से ये भारत गणतंत्र हुआ !!

आजादी का जोश कभी काम न होने देंगे !!
जब भी जरुरत पड़ेगी देश के लिए जान लूटा देंगे !!
क्योंकि भारत हमारा देश है !!
अब दोबारा इस पर कोई आंच न आने देंगे !!
जय हिन्द !!
Happy Republic Day !!

तिरंगा हमारा है शान-ए-जिंदगी !!
वतन परस्ती है वफ़ा-ए-जिंदगी !!
देश के लिए मर मिटना कबूल है हमें !!
अखण्ड भारत के स्वप्न का जूनून है हमें !!

देश भक्तो के बलिदान से !!
स्वतनत्र हुए है हम !!
कोई पूछे कौन हो !!
तो गर्व से कहेंगे .
भारतीय है हम !!
हैप्पी गणतंत्र दिवस !!

चढ़ गये जो हंसकर सूली !!
खाई जिन्होंने सीने पर गोली !!
हम उनको प्रणाम करते हैं !!
जो मिट गए देश के लिए !!
हम उनको सलाम करते हैं !!

ये बात हवाओ को बताये रखना !!
रोशनी होगी चिरागों को जलाये रखना !!
लहू देकर जिसकी हिफाज़त हमने की !!
ऐसे तिरंगे को सदा दिल में बसाये रखना !!
हेप्पी रिपब्लिक डे !!

मेरे जज़्बातों से इस कदर वाकिफ है !!
मेरी कलम मैं इश्क भी लिखना चाहूँ !!
तो भी !! इंकलाब लिख जाता है !!
भगत सिंह !!

ये नफरत बुरी है ना पालो इसे !!
दिलों में नफरत है निकालो इसे !!
ना तेरा. ना मेरा. ना इसका ना उसका !!
ये सब का वतन है बचालो इसे !!

Republic Day Wishes

राष्ट्र के लिए मान – सम्मान रहे !!
हर एक दिल में हिन्दुस्तान रहे !!
देश के लिए एक – दो तारीख नही !!
भारत माँ के लिए ही हर सांस रहे !!

कुछ नशा तिरंगे की आन है !!
कुछ नशा मातृभूमि की शान का है !!
हम लहराएँगे हर जगह ये तिरंगा !!
नशा ये हिंदुस्तान की शान का है !!

चलो फिर से खुद को जगाते है !!
अनुसासन का डंडा फिर घुमाते है !!
सुनहरा रंग है गणतंत्र का शहीदों के लहू से !!
ऐसे शहीदों को हम सब सर झुकाते है !!

वो शमा जो काम आये अंजुमन के लिए !!
वो जज्बा जो कुर्बान हो जाये वतन के लिए !!
रखते है हम वो हौसले भी !!
जो मर मिटे हिंदुस्तान के लिए !!

आओ झुक कर सलाम करे उनको !!
जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है !!
खुशनसीब होता है वो खून जो !!
देश के काम आता है !!

वो शमा जो काम आये अंजुमन के लिए !!
वो जज़्बा जो क़ुर्बान हो जाए वतन के लिए !!
रखते हैं हम वो होंसले भी !!
जो मर मिटे हिंदुस्तान के लिए !!
गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं !!
जय हिन्द जय भारत !!

वतन हमारा ऐसा कोई ना छोड पाये !!
रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये !!
दिल एक है जान एक है हमारी !!
हिन्दुस्तान हमारा है यह शान हैं हमारी !!
गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनायें !!

देखो वो गणतंत्र दिवस हैं आया !!
अंबेडकर ने जिस दिन सविंधान बनाया !!
26 जनवरी 1950 का वो दिन था !!
कन्याकुमारी से जम्मू तक गणतंत्र का दिन था !!
गाँधी नेहरू शास्त्री जी का उस दिन सपना सच हुआ !!
राजेंद्र प्रसाद अब्दुल कलाम सहित !!
समस्त भारत तब और आज भी गौरान्वित हुआ !!

ऐ मेरे वतन के लोगों तुम खूब लगा लो नारा !!
ये शुभ दिन है हम सब का लहरा लो तिरंगा प्यारा !!
पर मत भूलो सीमा पर वीरों ने है प्राण गँवाए !!
कुछ याद उन्हें भी कर लो जो लौट के घर ना आये !!

Rate this post

Leave a Comment